फल के ठेले से बांट छीन कर भागा दरोगा, सीएम योगी ने लिया संज्ञान, जानिए फिर क्या हुआ?

लखनऊ के लोहिया पथ पर फेरी लगा कर फल बेच रहे विक्रेता का बांट छीन कर डालीबाग चौकी इंचार्ज भाग निकले। दरोगा की यह हरकत राहगीरों ने मोबाइल में रिकॉर्ड कर ली। थोड़ी ही देर में सोशल मीडिया के जरिए यह वीडियो वायरल हो गया। इस सीएम योगी ने संज्ञान लिया। इंस्पेक्टर हजरतगंज श्याम बाबू शुक्ल ने दरोगा की गलती को सुधारते हुए फल विक्रेता के घर पहुंच कर उसे इलेक्ट्रानिक तराजू भेंट किया। 

वजीरगंज निवासी दीपू फल का ठेला लगाता है। वह फेरी लगाते हुए लोहिया पथ पर पहुंच गया था। तभी डालीबाग चौकी इंचार्ज सुरेंद्र सिंह एक सिपाही के साथ वहां आ गए। उन्होंने दीपू को ठेला लगाने पर फटकारा। फिर उसका बांट जेब में रख लिया।बांट वापस पाने के लिए दीपू दरोगा के हाथ जोड़ता रहा। लेकिन उन्होंने फल विक्रेता की दलील नहीं सुनी। मन मसोस कर दीपू ठेला लेकर घर लौट आया।

 https://twitter.com/NewsPmh/status/1399282562367823872?s=19

इंस्पेक्टर के मुताबिक लोहिया पथ पर फेरी लगाने की मनाही है। इसका पालन कराने के लिए डालीबाग चौकी इंचार्ज गए थे। दरोगा के बांट ले जाना सही नहीं था। दीपू को हुई परेशानी को ध्यान रखते हुए उसे इलेक्ट्रानिक तराजू दिया गया है।पुलिस कर्मियों की बदसलूकी का यह पहला मामला नहीं है। वर्ष 2015 में जीपीओ के पास टाइपिस्ट कृष्ण कुमार के साथ टाइपराइटर को दरोगा प्रदीप ने लात मार कर तोड़ दिया था

Leave a Reply

Your email address will not be published.