उत्तर प्रदेश का मुजफ्फरनगर जिला. यहां एक नाबालिग लड़की का चार लोगों ने कथित तौर पर गैंगरेप किया. मोबाइल से वीडियो बनाया और धमकी दी कि अगर उसने इस घटना के बारे में किसी और को बताया, तो वो इसे वायरल कर देंगे. साथ ही उसके नाबालिग भाई को भी बंदूक दिखाकर जान से मारने की धमकी दी. इस मामले में चारों आरोपियों के खिलाफ POCSO एक्ट और गैंगरेप की धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है. पीड़िता के मेडिकल के बाद आगे की कार्रवाई की जा रही है.

पूरा मामला क्या है?

इंडिया टुडे से जुड़े पत्रकार संदीप सैनी की रिपोर्ट के मुताबिक, मामला फुगाना थाना क्षेत्र का है. पीड़िता की उम्र 15 वर्ष और उसके भाई की उम्र 12 वर्ष है. इनके माता-पिता 23 जुलाई को अपने रिश्तेदार के यहां नौरंगाबाद गए हुए थे. घर पर सिर्फ दोनों बच्चे ही थे. दर्ज शिकायत में पीड़िता के पिता ने बताया कि घटना 23-24 जुलाई की रात घटी. जब दोनों बच्चे सो रहे थे. उनके पड़ोस में रहने वाला एक लड़का छत के जरिए घर में कूद गया और बेटी पर बंदूक तान दी. घर का दरवाजा खोलकर तीन और लड़कों को घर के अंदर ले आया.

पीड़िता के पिता ने अपनी शिकायत में बताया कि चारों ने मिलकर उनके बेटे को बंदूक दिखाकर जान से मारने की धमकी दी. बेटी का गैंगरेप किया. और जब बेटे ने शोर मचाने का प्रयास किया, तो उसे फिर से धमकाया. और घटना का पूरा वीडियो बनाया. इसके बाद चारों लड़की को बेहोशी की हालत में छोड़कर वहां से फरार हो गए.

इस मामले में पुलिस का कहना है

सूचना मिली थी कि पीड़िता का गांव के ही चार लोगों ने रेप किया है. ये उसके पड़ोसी हैं और एक-दूसरे को अच्छी तरह जानते हैं. मिली शिकायत के आधार पर केस दर्ज कर लिया गया है. पीड़िता का मेडिकल कराया गया है. आगे की कार्रवाई की जा रही है. जनपद स्तर पर आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पांच टीमों का गठन किया गया है. जो विभिन्न क्षेत्रों में निष्क्रिय कार्रवाई कर रहे हैं. आशा है कि जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा. और उनके खिलाफ ठोस कार्रवाई भी शीघ्र की जाएगी.

पीड़िता के पिता का कहना है कि आरोपी जान से मारने के लिए धमकी दे रहे हैं. पीड़ित पक्ष ने थाने में शिकायत दर्ज कर न्याय की मांग की है.

By Taniya Chauhan

सच्चाई जिसे आप देखना चाहते है