एक पाकिस्तानी मूल के युवक को जेल भेज दिया गया है. अदालत ने उसे फ्लाइट में हंगामा करने, महिलाओं को गंदी गालियां देने का दोषी पाया है. ओमान एयर की मैनचेस्टर जा रही फ्लाइट में यह घटना हुई थी. वैसे, पाकिस्तानियों के काले कारनामों की यह पहली घटना नहीं है, ऐसे किस्से अक्सर सुनने में आते रहते हैं.

  • लंबी चली सुनवाई के बाद अदालत ने भेजा जेल
  • 2019 में ओमान एयर की फ्लाइट में हुई थी घटना
  • 12 घंटे की फ्लाइट में लगातार बकता रहा गालियां

मस्कट: फ्लाइट (Flight) में हंगामा करने वाले मुस्लिम युवक (Muslim Man) को जेल की सजा सुनाई गई है. ओमान की एक अदालत ने 33 वर्षीय मोहम्मद अमीन (Mohammed Amin) को दोषी करार देते हुए 12 महीने के लिए जेल भेज दिया है. अमीन ने मस्कट से मैनचेस्टर (Muscat to Manchester) जाने वाली ओमान एयर (Oman Air) की फ्लाइट में जमकर हंगामा मचाया था. वाइन न मिलने से बौखलाए अमीन ने बिजनेस क्लास में जाकर उत्पात मचाया और एयरलाइन्स स्टाफ के साथ भी बदतमीजी की.

Father के हाथ से छीना ग्लास

डेली मेल की रिपोर्ट के अनुसार, मोहम्मद अमीन (Mohammed Amin) इकॉनमी क्लास में सफर कर रहा था, जबकि उसके पेरेंट्स बिजनेस क्लास में थे. जब उसने वाइन की मांग की तो, एयरलाइन्स स्टाफ ने इससे इनकार कर दिया. इस पर अमीन गुस्से में आग बबूला हो गया. वह सीधा बिजनेस क्लास में पहुंचा और अपने पिता के हाथ से वाइन का ग्लास छीनकर जमकर हंगामा मचाया.  

इसलिए नहीं मिली थी Wine

दरअसल, मोहम्मद अमीन के पेरेंट्स ने ही ओमान एयर के स्टाफ से कहा था कि उनके बेटे को शराब न दी जाए, क्योंकि उसकी सेहत ठीक नहीं है. पुलिस ने एयरलाइन्स कर्मियों के हवाले से बताया कि जब पाकिस्तानी मूल के अमीन को शराब देने से इनकार किया गया, तो उसने फ्लाइट अटेंडेंट को नस्लभेदी गलियां दीं. इतना ही नहीं उसने अटेंडेंट का चेहरा बिगड़ने की धमकी भी दी.   

बड़ी मुश्किल से काबू में आया Amin

बेकाबू हुए मोहम्मद अमीन को काबू में करने के लिए एयरलाइन्स कर्मियों को काफी मशक्कत करनी पड़ी. चार यात्रियों की सहायता से किसी तरह उसे वश में किया गया. मस्कट से मैनचेस्टर जा रही इस फ्लाइट में कुल 246 यात्री सवार थे. यह घटना 19 अगस्त, 2019 में हुई थी. मिनशुल स्ट्रीट क्राउन कोर्ट ने लंबी सुनवाई के बाद आखिरकार अमीन को दोषी करार देते हुए 12 महीने जेल की सजा सुनाई है. 

देख लेने की दी धमकी

रिपोर्ट में बताया गया है कि मोहम्मद अमीन के पेरेंट्स ने भी उसे समझाने की कोशिश की, लेकिन उसने उन्हें भी खामोश करा दिया. 12 घंटे की फ्लाइट के दौरान वह महिला कर्मियों को गंदी-गंदी गालियां देता रहा. यहां तक कि उसने मैनचेस्टर पहुंचने पर उन्हें देख लेने की धमकी भी दी. बचाव पक्ष की वकील मिस एरीम मुश्ताक ने कहा कि उनके मुवक्किल का जन्म और पालन-पोषण यूके में हुआ था, लेकिन जब उसकी उम्र 14 साल थी तब उसके माता-पिता पाकिस्तान चले गए थे. मुश्ताक ने अमीन के बचाव में कई दलीलें दिन, लेकिन कोर्ट ने उन्हें खारिज करते हुए अमीन को जेल भेज दिया.

By Taniya Chauhan

सच्चाई जिसे आप देखना चाहते है