पाकिस्तान (Pakistan) में चीनी इंजीनियरों (Chinese Engineers) से भरी एक बस को निशाना बनाया गया है जिसमें चीन के 6 नागरिकों की मौत हो गई है. धमाका (Blast) इतना जोरदार था कि बस सड़क किनारे एक नाले में जा गिरी.

  • इंजीनियरों से भरी थी बस
  • टारगेट सेट कर हुआ हमला
  • चीन के 6 नागरिकों की मौत

पेशावर: पाकिस्तान (Pakistan) के उत्तरी इलाके में हुए धमाके में कम से कम 8 लोगों के मारे जाने की खबर है. जानकारी के मुताबिक टारगेट चुनकर यात्रियों से भरी एक बस को निशाना बनाया गया था जिसमें चीन के 6 नागरिकों की भी मौत हुई है. मरने वालों में एक पाकिस्तानी जवान भी शामिल है. इसके अलावा कई अन्य लोग इस धमाके में घायल हुए हैं.

चीनी इंजीनियर्स से भरी थी बस

अभी साफ नहीं हो सका है कि क्या बम बस के अंदर की प्लांट किया गया था या फिर बाहर से उसे निशाना बनाया गया है. इस धमाके के बाद एक चीनी इंजीनियर और एक पाकिस्तानी जवान लापता है. हादसे में घायल लोगों के रेस्क्यू ऑपरेशन (Rescue Operation) के लिए एयर एंबुलेंस को तत्काल मौके पर भेजा गया है.

अधिकारी ने बताया कि धमाके में चीन के 6 नागरिक, सेना का एक जवान और एक स्थानीय नागरिक की मौत हुई है. उन्होंने बताया कि ब्लास्ट में कई लोग जख्मी हुए हैं और बस में कुल 30 चीनी इंजीनियर सवार थे. बस सभी लोगों को कोहिस्तान स्थित दसू डैम साइट पर ले जा रही थी.

हाइड्रो प्रोजेक्ट को झटका

दसू हाइड्रो प्रोजेक्ट (Dasu Hydroelectric Project) चीन-पाकिस्तान इकोनॉनिक कॉरिडोर (China-Pakistan Economic Corridor) का हिस्सा है जिस पर 65 अरब डॉलर के निवेश का प्लान है. इस प्रोजेक्ट के जरिए चीन की ओर से शुरू हुए बेल्ट एंड रोड प्लान का मकसद पश्चिमी चीन को दक्षिणी पाकिस्तान में ग्वादर पोर्ट से जोड़ना है. 

इस परियोजना को पूरा करने के लिए चीन के इंजीनियरों के साथ पाकिस्तान के अधिकारी और मजदूर भी कई साल से लगातार काम में जुटे हुए हैं. 

By Taniya Chauhan

सच्चाई जिसे आप देखना चाहते है