मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि स्थानीय समस्याओं का समाधान तहसील, थाना व जिला स्तर पर ही किया जाए जिससे जनता को समस्याओं के समाधान के लिए लखनऊ की दौड़ न लगानी पड़े। उन्होंने जिले स्तर पर अधिकारियों को हर हाल में प्रतिदिन जन सुनवाई करने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री शनिवार को अपने सरकारी आवास से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिलाधिकारियों सहित वरिष्ठ पुलिस  अधिकारियों को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि वरिष्ठ नागरिकों की समस्याओं के समाधान के लिए एल्डर हेल्पलाइन बनाई गई है। इस प्रकार की हेल्पलाइन का कार्य प्रत्येक जिले में किया जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पांच अगस्त को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का लाभ प्रत्येक पात्र लाभार्थी को प्राप्त हो। इसके लिए व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए। प्रत्येक उचित दर की दुकान पर पांच अगस्त को कम से कम 100 लाभार्थियों को उपलब्ध कराए गये बैग में खाद्यान्न वितरण सुनिश्चित किया जाए। प्रत्येक सरकारी राशन की दुकान के लिए नोडल अधिकारी तैनात किए जाएं।

उन्होंने कहा कि नौ अगस्त को अगस्त क्रांति व काकोरी की घटना के दृष्टिगत प्रदेश के शहीद स्मारकों पर कार्यक्रमों का आयोजन किया जाए। पुलिस व सुरक्षा बलों के बैंड वादन सहित देशभक्ति के कार्यक्रम आयोजित किए जाएं। शहीदों के परिवारीजनों को सम्मानित किया जाए। उन्होंने कहा कि गो-आश्रय स्थल के संबंध में शिकायतें न प्राप्त हों। प्रत्येक गौशाला के लिए नोडल अधिकारी की तैनाती की जाए और वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा गो-आश्रय स्थलों की सुचारू व्यवस्था के लिए निरीक्षण किया जाए। 

By Taniya Chauhan

सच्चाई जिसे आप देखना चाहते है